अभी-भी...

बातें...
कुछ कही कुछ अनकही, कुछ गलत कुछ सही
कुछ नई कुछ पुरानी, कभी तुम्हारी कभी हमारी...
पल...
कुछ साथ कुछ अकेले, कुछ सवाँरे कुछ सहेजे
कुछ जिये कुछ खो दिए, कभी हँसे कभी रो दिए
ज़िन्दगी...
कभी ख़ुशी कभी ग़म, कभी हम कभी तुम
कभी होंठ खिले कभी आँखे नम, कभी मिली तो कभी गुम
रिश्ते...
कुछ अपने कुछ पराए, कुछ दिखावा कुछ साए
कुछ जाने कुछ अन्जाने, कुछ भूले कुछ पहचाने...
गीत...
कुछ पुराने कुछ नए, कुछ सुने कुछ सुनाए
कुछ अपने कुछ गैरों के, कुछ गाँव के कुछ शहरों के...
यादें...
कुछ हमारी कुछ तुम्हारी, कुछ साथ जो हमने गुजारी
कभी हांथो में हाँथ, कभी बांहों का साथ...
कभी दिन तो कभी रात...
आँखें...
कभी उठी कभी झुक गईं, कभी शांत कभी बह गईं
इस भीड़ में न जाने तुम्हे कहाँ-कहाँ ढूँढा, जहाँ तुम मिले वहीँ रुक गईं...
अभी-भी...
कुछ बातें करनी बाकी हैं...
कुछ पल जीना बाकी है...
कुछ ज़िन्दगी के मकसद बाकी हैं...
कुछ रिश्ते निभाना बाकी है...
कुछ गीत जो गुनगुनाए नहीं...
कुछ यादें जी याद नहीं...
इन आँखों से न जाने कैसे-कैसे मंज़र गुज़रे...
और एक हम हैं, जिन्हें
अभी-भी ठहरना बाकी है...

11 comments:

  1. hi i m also pooja n read ur blog
    its lovely piece of work

    ReplyDelete
  2. बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.
    ढेर सारी शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  3. ब्लौगर बंधु, हिंदी में हजारों ब्लौग बन चुके हैं और एग्रीगेटरों द्वारा रोज़ सैकड़ों पोस्टें दिखाई जा रही हैं. लेकिन इनमें से कितनी पोस्टें वाकई पढने लायक हैं?
    हिंदीब्लौगजगत हिंदी के अच्छे ब्लौगों की उत्तम प्रविष्टियों को एक स्थान पर बिना किसी पसंद-नापसंद के संकलित करने का एक मानवीय प्रयास है.
    हिंदीब्लौगजगत में किसी ब्लौग को शामिल करने का एकमात्र आधार उसका सुरूचिपूर्ण और पठनीय होना है.
    कृपया हिंदीब्लौगजगत देखिए

    ReplyDelete
  4. @pooja, sanjay and hindiblog Jagat... thank you so much for your feedbacks... hope to do some good work as your expectations... Once again thank you so much...

    ReplyDelete
  5. बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.

    ReplyDelete
  6. बहुत बढ़िया..अच्छा लगा इस तरह का संयोजन!!

    ReplyDelete
  7. @paramjeet bali and Udan tashtari... bohot bohot dhanyawaa...

    ReplyDelete
  8. आपकी पोस्ट की हलचल आज यहाँ भी है

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर |

    ReplyDelete
  10. @Yashwant ji... bahut-bahut dhnyawaad... :)
    @Sangeeta ji, Minakshi ji... bahut bahut dhnyawaad... yunhi aashirwaad banaye rakhen... :)

    ReplyDelete